Phone: +91-9254321162

Information About KISAN Uphar Yojna

Haryana KISAN Uphar Yojna





कूपन प्राप्त करने के लिए जरुरी दस्तावेज निम्न प्रकार है :-

  • Identity Proof(Aadhaar Card) / पहचान प्रमाण (आधार कार्ड )
  • Address Proof / पता प्रमाण
  • J-Form / जे फार्म (विभाग से या आढ़ती से प्राप्त करें)

किसान उपहार योजना कूपन ड्रा के लिए नियम व शर्तें

  1. सभी तरह के ड्रा मुख्य प्रशासक हरियाणा राज्य कृषि विपणन मंडल पंचकूला द्वारा निर्धारित स्थान तय तिथि व वर्णित कमेटी द्वारा निकाला जाएगा।
  2. इस योजना में केवल किसान (जो केवल कृषि का ही काम करता हो) को ही उपहार वितरित किए जाएंगे कोई भी कर्मचारी (बोर्ड व कमेटी)/ आढ़ती/ व्यापारी इस योजना का लाभ नहीं उठा पाएंगे।
  3. यह योजना मुख्यतः केवल हरियाणा राज्य के किसानों के लिए है। किसान हरियाणा का स्थाई निवासी होना चाहिए तथा कृषि भूमि हरियाणा राज्य में ही होनी चाहिए।
  4. इस योजना के उपहार किसी किसान के एक या एक से अधिक निकलते हैं तो केवल एक बड़ा उपहार ही किसान को दिया जाएगा।
  5. निकाले गए उपहार कूपनो के नंबर और सफल कृषक व्यक्तियों के नाम "ड्रा" रजिस्टर में लिखे जाएंगे और इस पर सफल कृषक के हस्ताक्षर भी करवाए जाएंगे।
  6. उपहार प्राप्त करने के "ड्रा" में सफल व्यक्ति के नाम को बोर्ड द्वारा समाचार-पत्र में प्रकाशित तिथि के 45 दिन के अंदर-अंदर अपना क्लेम "जे" फार्म मुख्य कूपन सहित संबंधित मार्केट कमेटी में सव्यं उपस्थित होकर देना होगा।
  7. योजना के अंतर्गत "जे" फार्म प्राप्ति के 7 दिन तक कृषक अपना उपहार कुपन मार्केट कमेटी से ले सकेंगे।
  8. "जे" फार्म एवं मुख्य कूपन कटा-फटा और जोड़ लगा नहीं होना चाहिए।
  9. केवल साफ-सुथरा "जे" फार्म एवं मुख्य कूपन पेश करने पर ही इनाम दिया जाएगा।
  10. मार्केट कमेटी के स्तर पर पुरस्कार से संबंधित "ड्रा " और इनाम कूपन देने तक उठाए गए विवाद का निपटारा "ड्रा" सब- कमेटी करेगी।
  11. राज्य स्तर पर पुरस्कार से संबंधित विवाद का निपटान मुख्य प्रशासक बोर्ड द्वारा किया जाएगा।
  12. इनाम लेते समय वास्तविक कूपन को अधिकारियों को जमा करवाना अनिवार्य होगा।
  13. इन कूपनो पर यदि कोई विवाद होता है तो उसका कानूनी अधिकार क्षेत्र केवल पंचकूला न्यायालय ही होगा।
  14. कूपन ड्रा की तिथि में बदलाव करने का विशेष अधिकार हरियाणा राज्य कृषि विपणन बोर्ड के पास है ।
  15. इस योजना के तहत प्रत्येक जिले में चार ट्रैक्टर व ट्रैक्टर ट्राली राज्य स्तरीय उपहार के रूप में किसानों को दिए जाएंगे।
  16. इस योजना के तहत 150 एपिसोड ज्यादातर धान की आवक वाली मंडियों में किसानों को दिए जाएंगे।
  17. इस योजना के तहत 94 रोटावेटर मंडियों के किसानों को दिए जाएंगे जहां पर धान की आवक कम या नहीं होती।
  18. इस योजना के तहत 1440 साइकिल मार्केट कमेटी की आय व श्रेणी के अनुसार किसानों को वितरित की जाएंगी।
  19. इस योजना के तहत दिए जाने वाले उपहारों की संख्या के हिसाब से कम या ज्यादा करने का अधिकार मुख्य प्रशासक हरियाणा राज्य कृषि विपणन बोर्ड के पास होगा ।